Skip to main content

Posts

Showing posts from October, 2019

FEATURED ARTICLES

Three Dimensional Geometry (part - 2) , The Planes | study material for IIT JEE | concept booster, chapter highlights/

THREE DIMENSIONAL GEOMETRY (PART - 2), THE PLANES










THE PLANESPlane is the surface such that if any two points are taken on it, then the line joining the two points lies on it.
General equation of plane is given as -  ax + by + cz + d = 0 , where a ,b and c is not equal to zero.
           POINTS TO BE REMEMBERED 1). a, b and c are the directions ratios of the normal to the plane ax + by + cz + d = 0.

2). Equation of the yz - plane is x = 0

3). Equation of the zx - plane is y = 0

 4). Equation of the xy - plane is z = 0

5). Equation of the any plane parallel to the xy - plane is z = c. Similarly for Planes parallel to yz and zx is x = c and y = c
EQUATION OF THE PLANE IN NORMAL FORMVECTOR FORMIf n̂ be a unit vector normal to a given plane and d be the length of the perpendicular from the origin to the plane, then the equation of the plane is given by -                           r.n̂ = d CARTESIAN FORMIf l, m, n are the directions cosines of the normal to the plane and d is the perpendicular distan…

THE AKASHIC RECORD A UNIVERSAL OCEAN OF INFINITE KNOWLEDGE | explained in Hindi

आज हम लॉज ऑफ नेचर में एक ऐसे विषय पर बात करने जा रहे हैं, जिसके बारे आप लोगो को जरूर पढ़ना चाहिए, क्यूंकि ये आपको सोचने पर मजबूर कर देगा, कि क्या ये सच है, यदि ये संभव है तो कैसे?

पूर्व की कई प्राचीन आध्यात्मिक परंपराओं में चेतना की तीन अवस्थाओं का वर्णन मिलता है,जहां इंसान रोज़ जाता है,सोते समय,जागते हुए और सपनों में,लेकिन चेतना की एक और अवस्था भी है जिसे हम खगोलीय चेतना कहते है,जो भौतिक दुनिया से बिल्कुल अलग होती है,असल में वो ब्रह्मांड का पूरा इतिहास है।हालांकि हम उसे अपनी आंखों से देख नहीं सकते,लेकिन इलेक्ट्रोमैगनेटिक वव्स की एक आभासी दुनिया भी है जो हमारी दुनिया से मिलती है,और उन तरंगों का विशाल नेटवर्क पूरी जानकारियों और आंकड़ों को अपने अंदर समेटे हुए है,जिनके उपर हम आज के युग में निर्भर हैं। वो उस चीज की जान है जिसे आज हम क्लाउड कहते हैं और उसके अंदर दूर से हीं करोड़ों गीगाबाइट के आंकड़े जमा होते हैं, इतिहासकार मानते हैं एक सुपर इंटरगलैक्टिक कंप्यूटर नेटवर्क की कल्पना सबसे पहले वैज्ञानिक जे सी आर लेक राइडर ने 1960 के दशक में किया था,मगर प्राचीन अंतरिक्ष विचारक थेरेस मानते हैं …

The secrets of the BERMUDA TRIANGLE | A unexplained mysterious place.

आज हम लॉज ऑफ नेचर में एक ऐसे विषय पर बात करने जा रहे हैं, जिस पर कुछ कहना शोध कर्ताओं के लिए एक बड़ी चुनौती है, हम एक ऐसे रहस्यमई क्षेत्र कि बात कर रहे हैं, जिसे बरमूडा ट्राएंगल कहते है, और इस क्षेत्र ने इंसानों के बीच एक असमंजस की स्थिति बना दिया है, जिसे सुलझना एक टेढ़ी खीर है।
फोर्ट लुआद्रदेल, फ्लोरिडा, 5 दिसंबर 1945,अमेरिकी नौ सेना के पांच बम बरसक एवेंजर विमान फ्लोरिडा से पूर्व दिशा की ओर उड़ान भरे, जो नियमित उड़ान परिक्षिषण का एक भाग था।तभी बरमूडा आइलैंड के ऊपर उनके साथ एक विचित्र घटना घटी,उड़ान के लगभग डेढ़ घंटे बाद स्क्वॉर्डन लीडर लेफ्टिनेंट कर्नल चार्ल्स टेलर ने एक रेडियो ट्रांसमिशन भेजा की उनके विमान के दी कंपासेस ने काम करना बंद कर दिया है।
सब पूरी तरह से उलझन में आ गए वो ऐसी जगह भटक गए जहां उन्हे नहीं भटकना चाहिए था।अमेरिकी नौ सेना का पूरा स्क्वाड्रन अचानक गायब हो गया था।इस हादसे ने सबको ये सोचने पर मजबूर कर दिया था कि क्या उनका अपहरण हो गया है।तीन घंटे बाद एक बचाव विमान टीवी वाई मरिन ग्यारह लोगो के साथ गायब हो गया।ये हादसा अमेरिकी नौ सेना के इतिहास में सबसे चौंका देने वाली…